Winners of the Inter college Cricket Tournament

क्रिकेट खेलने से बढ़ती है शारीरिक फुर्ती, संतुलन और गति: प्रोफेसर ढींडसा
*जेसीडी मेमोरियल कॉलेज ने सीडीएलयू के इंटर कॉलेज क्रिकेट टूर्नामेंट में जीता सिल्वर मेडल*

सिरसा, 21 जनवरी 2024: जेसीडी मेमोरियल कॉलेज ने चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय के इंटर कॉलेज क्रिकेट टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए रजत पदक अपने नाम किया। इस उपलब्धि पर जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक डॉ प्रो कुलदीप सिंह ढींडसा ने टीम को बधाई दी। इस अवसर पर उनके साथ कुलसचिव डॉ. सुधांशु गुप्ता, जनसंपर्क निदेशक प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश, प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल, स्पोर्ट्स ऑफिसर डॉ. अमरीक गिल, कोच महावीर उपस्थित रहे।

स्पोर्ट्स ऑफिसर डॉ. अमरीक गिल ने बताया कि टूर्नामेंट का आयोजन शाह सतनाम सिंह मेमोरियल कॉलेज सिरसा में किया गया था और फाइनल मैच में जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की टीम का मुकाबला भी शाह सतनाम सिंह जी मेमोरियल कॉलेज की टीम से हुआ था जिसमें शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम ने कड़ी स्पर्धा पेश की और एक बेहद करीबी मुकाबले में दूसरा स्थान अपने नाम किया।

जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक डॉ प्रो कुलदीप सिंह ढींडसा ने कहा कि हमारी टीम ने अपने सभी लीग मुकाबलों में बेहतरीन खेल दिखाया है और अब तक अपनी प्रतिद्वंदी टीमों को हराने के लिए अपनी पूरी ताकत, फुर्ती, तकनीक और टीमवर्क का बेहतरीन प्रयोग किया है। टीम ने अपने कप्तान की नेतृत्व शैली, अपने कोच की रणनीति के अनुसार ही प्रदर्शन किया। डॉ. ढींडसा ने कहा कि हमारी क्रिकेट टीम का यह प्रदर्शन उन्हें आगे की चुनौतियों के लिए प्रेरित करेगा। मुझे उम्मीद है कि वे अपने खेल में और भी बेहतर बनेंगे, और जेसीडी को और भी गौरवान्वित करेंगे। डॉक्टर ढींडसा ने कहा कि क्रिकेट खेलने से सेहत को कई जबरदस्त फायदे होते हैं। क्योंकि क्रिकेट के मैदान पर आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से काम करना पड़ता है। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं और संतुलन, गति और फुर्ती बढ़ती है। क्रिकेट खेलते समय मैदान में दौड़ने-भागने से दिल को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है। क्रिकेट खेलने से शारीरिक ताकत भी बढ़ती है। तेज बॉल फेंकना, दमदार शॉट मारना, तेज भागना जैसी एक्टिविटी आपके हाथ, कंधे और पैरों को सक्रिय रखती हैं।

प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल ने कहा कि हमारी टीम ने न सिर्फ खेल में उम्दा प्रदर्शन किया है बल्कि अपने खेल में ईमानदारी, निष्ठा, अनुशासन, सहयोग और स्पोर्ट्समैनशिप के गुण भी प्रदर्शित किए हैं।टीम ने इससे पहले के मुकाबले जीत कर भी अपने प्रतिस्पर्धियों का सम्मान किया है, और अपने आदर्शों को ऊंचा रखा है। हमारा मकसद खेल के माध्यम से स्पोर्ट्समैन स्पिरिट और व्यक्तित्व का विकास करना भी है। हम उम्मीद करते हैं की हमारे कॉलेज की टीम में से खिलाड़ी नेशनल और इंटरनेशनल मुकाबले भी खेलेंगे और प्रदेश व देश का नाम रौशन करेंगे।

खिलाड़ियों ने अपनी शानदार सफलता का श्रेय अपने प्रशिक्षकों व जेसीडी प्रबंधन को दिया और जेसीडी में स्थित नेशनल क्रिकेट अकादमी में और ज्यादा मेहनत करने का संकल्प किया।