Achievement in Inter University Weight Lifting

ताकत और स्टेमिना बढ़ाता है वेट लिफ्टिंग : डॉ. ढींडसा।
जेसीडी मेमोरियल कॉलेज के कर्मण ने इंटर यूनिवर्सिटी वेट लिफ्टिंग चैंपियनशिप के लिए किया क्वालीफाई ।

सिरसा, 18 जनवरी 2024:जेसीडी मेमोरियल कॉलेज के विद्यार्थी कर्मण ने चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय¹ में आयोजित किए गए वेट लिफ्टिंग ट्रायल में शानदार प्रदर्शन करते हुए इंटर यूनिवर्सिटी वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप के लिए क्वालिफाई किया है। इस उपलब्धि पर जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक डॉ. कुलदीप सिंह ढींडसा, कुलसचिव डॉ. सुधांशु गुप्ता और प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल ने विद्यार्थी कर्मण को बधाई दी व आगे की प्रतिस्पर्धा के लिए शुभकामनाएं दी।जेसीडी के स्पोर्ट्स ऑफिसर डॉ. अमरीक गिल ने बताया कि कर्मण ने 120 किलोग्राम वजन उठाकर ट्रायल में अपनी शारीरिक योग्यता और तकनीक का प्रदर्शन किया जो कि जेसीडी मेमोरियल कॉलेज और स्पोर्ट्स स्टाफ के लिए एक गर्व का विषय है।

जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक प्रोफेसर डॉ. कुलदीप सिंह ढींडसा ने इस सफलता के लिए प्रशंसा की और उन्हें आगे की चुनौतियों का सामना करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि कर्मण ने अपने कॉलेज और विद्यापीठ का नाम रोशन किया है और उन्हें इसी तरह का प्रदर्शन आगे भी बनाए रखना चाहिए। डॉ. ढींडसा ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि यह विद्यार्थी इंटर यूनिवर्सिटी के बाद स्टेट, नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर भी खेले और देश का नाम रोशन करे। उन्होंने कहा कि वेट लिफ्टिंग आपकी ताकत और स्टेमिना को बढ़ाता है और आपकी मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है। वेटलिफ्टिंग हड्डियों की मजबूती , ,मेटाबॉलिज्म और दिल की सेहत के साथ साथ मानसिक समस्याओं के लिए भी फायदेमंद होता है।

इस अवसर पर कॉलेज प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल ने कर्मण को बधाई दी और उनके लिए शुभकामनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने कहा कि कर्मण ने अपने अपने खेल में अद्भुत प्रतिभा, उत्साह और अनुशासन का परिचय दिया है और अथक परिश्रम और लगन से उच्च स्तर का प्रदर्शन किया है। यह उपलब्धि लगातार अभ्यास, आत्मविश्वास और लक्ष्य की ओर दृढ़ता द्वारा प्राप्त की गई है। डॉ. शिखा गोयल ने अन्य विद्यार्थियों को भी पढ़ाई के साथ साथ खेलों में भाग लेने और अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने का संदेश दिया।

कर्मण ने बताया कि उन्हें वेटलिफ्टिंग का शौक बचपन से ही था और जेसीडी में मिली सुविधाओं ने उसके इस शौंक को निखार दिया।इस उपलब्धि का श्रेय उन्होंने अपने कोच, परिवार और जेसीडी प्रबंधन को दिया। उन्होंने कहा कि वह अपने देश के लिए खेलना चाहते हैं और इसके लिए वह अपनी पूरी कोशिश करेंगे।