Call: 94163-61101/99917-00080
Online Essay Writing Competition (1)

Online Essay Writing Competition in Hindi, English and Punjabi Languages ​​in JCD Vidyapeeth

जेसीडी विद्यापीठ में हिंदी अंग्रेजी व पंजाबी भाषाओं में ऑनलाइन निबंध लेखन प्रतियोगिता

सिरसा। 12 जनवरी 2022: जेसीडी विद्यापीठ में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सचिव के निर्देशानुसार स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा के विषय पर जेसीडी विद्यापीठ के जे सी डी मेमोरियल कॉलेज की एनएसएस , वाई आर सी व वूमेन सेल के संयुक्त तत्वाधान में हिंदी अंग्रेजी व पंजाबी भाषाओं में ऑनलाइन निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य विषय पर आधारित कई अन्य विषयों को शामिल किया गया।

कुपोषण की समस्या और उसके कारण, महिला सशक्तिकरण और पोषण सुधार, पोषण के प्रति जागरुकता की आवश्यकता, आहार प्रणाली में पोष्टिकता का महत्व जैसे कई विषयों पर लेखन करवाया गया और हर विद्यार्थी ने 200 से 300 शब्दों में निबंध लिख कर ईमेल द्वारा सबमिट करवाया। इस प्रतियोगिता में बीए, बीसीए,बीकॉम, एम कॉम के विद्यार्थियों ने काफी संख्या में भाग लिया। इस लेखन प्रतियोगिता में बीए प्रथम के छात्र हेमन्त और बीएससी द्वितीय की छात्रा साक्षी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। बीसीए की छात्रा गुरविंदर कौर द्वितीय और एम.ए. इंग्लिश की छात्रा महक चतुर्वेदी तृतीय स्थान पर रही। इस प्रतियोगिता में निर्णायक मंडल की भूमिका श्रीमती कांता रोहिल्ला व डॉक्टर आत्माराम ने निभाई।

इस प्रतियोगिता के विषय में जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉक्टर शमीम शर्मा ने कहा कि कुपोषण एक गंभीर समस्या है और जागरुकता के द्वारा ही इस समस्या का समाधान किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस निबंध प्रतियोगिता में सभी विद्यार्थियों ने कुपोषण से जुड़े अलग अलग विषयों पर काफी तथ्यात्मक लिखा है। उन्होंने कहा कि समय समय पर चलाए गए अभियानों के चलते काफी हद तक कुपोषण, बच्चों व महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के बारे में जागरूकता आई है। लेकिन अभी भी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। इस तरह की प्रतियोगिताओं के चलते विद्यार्थी भी जागरूक होते हैं और वो आगे चलकर परिवार व समाज को भी जागरूक करते हैं। डॉक्टर शमीम शर्मा ने विजेता विद्यार्थियों के साथ साथ सभी प्रतिभागियों को बधाई दी और इस ऑनलाइन आयोजन के लिए एन एस एस, वाई आर सी व वूमेन सेल की भी सराहना की।

वहीं जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की प्राचार्या डॉक्टर शिखा गोयल ने कहा कि जेसीडी विद्यापीठ और जेसीडी मेमोरियाल कॉलेज हमेशा से अनेकों विषयों पर जागरूकता अभियानों के लिए प्रयासरत रहता है और इसी क्रम में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के आदेश अनुसार इस निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। उन्होंने स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा के विषय पर कहा कि कुपोषण की सबसे ज्यादा शिकार महिलाएं हैं और उसी वजह से कुपोषण बच्चों में आता है डॉक्टर शिखा ने कहा कि समाज, सरकार व संस्थानों के संयुक्त प्रयासों द्वारा किसी भी समस्या से निपटा जा सकता है और आज की प्रतियोगिता का आयोजन ऐसे ही प्रयासों का एक हिस्सा है। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में शामिल लेने के लिए बधाई दी।

No Comments
Post a Comment
Name
E-mail
Website