World Water Day Celebration by NSS and Youth Red Cross Unit

जेसीडी मैमोरियल कॉलेज की एनएसएस एवं यूथ रेडक्रास यूनिट ने मनाया विश्व जल दिवस
जल बचाओ अभियान में निभाएं हम सभी अपनी-अपनी सशक्त भूमिका : जल स्टार रमेश गोयल

सिरसा 22 मॉर्च, 2021 : जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज की एनएसएस यूनिट एवं यूथ रेड क्रॉस सोसायटी द्वारा विश्व जल दिवस के अवसर पर एक विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन करवाया गया, जिसमें जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा तथा जल स्टार श्री रमेश गोयल ने बतौर मुख्यातिथि उपस्थित होकर विद्यार्थियों तथा उपस्थित जन को जल के महत्व तथा उसके उसके उपयोग की विस्तारपूर्वक व्याख्या दी। इस अवसर पर जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्य भी उपस्थित रहे। इस मौके पर कॉलेज प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल व डॉ जयप्रकाश द्वारा कार्यक्रम की अध्यक्षता की गई।

इस कार्यक्रम में जल स्टार एडवोकेट रमेश गोयल ने विद्यार्थियों को अपने विस्तार व्याख्यान में जानकारी देते हुए बताया कि विश्व के कई देशों में पेय जल की खरीद पर लोग अपनी आमदनी का 15 से 50 प्रतिशत तक खर्च कर देते हैं लेकिन हमारे भारत मे लोगों को पानी आसानी से मिल रहा है जिसके कारण उन्हें पानी का मोल नहीं पता है पर उन्हें यह समझना होगा कि भारत के अनेक हिस्सों में पानी अपने सामान्य स्तर से काफी नीचे जा चुका है इसलिए हमें पानी को अधिक से अधिक बचाना होगा और वर्षा जल संग्रहित कर उसका निर्माण करना होगा। उन्होंने कहा कि हम अपने दैनिक जीवन में प्रयोग होने वाले पानी का अगर सही अनुपात में इस्तेमाल करें और पानी की एक बूंद भी नष्ट ना होने दें तो हम सभी जल बचाओ अभियान में अपनी सशक्त भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा के केवल हमारा शरीर ही नहीं बल्कि हमारी पृथ्वी भी दो-तिहाई जल पर आधारित है। जल, वायु और भोजन हमारे जीवन रुपी इंजन के इंधन है अगर इनमें से एक भी पृथ्वी पर न बचा तो जीवन संकट में पड़ जाएगा इसलिए ‘जल ही जीवन हैÓ यूं ही नहीं कहा जाता है।

इस अवसर पर उपस्थितजनों को अपने संबोधन में प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा ने कहा पानी को बेकार बहाना किसी पाप से कम नहीं है क्योंकि अगर पानी नही बचा तो हम आने वाले जीवन की उत्पत्ति पर ही रोक लगा देंगे जिसका दोष हर एक उस व्यक्ति को जाएगा जिसने पानी को बेपरवाह होकर बेकार में बहाया है। उन्होंने कहा पानी हमारी जरूरत है इसलिए इसका उपयोग भी सिर्फ हमारी ज़रूरत के अनुसार ही होना चाहिए। उन्होंने कहा पानी तो ईश्वर के चरणों का अमृत है और अमृत की एक-एक बूंद अनमोल है।

कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ शिखा गोयल ने सभी उपस्थित जन का स्वागत करते हुए सभी विश्व जल दिवस की बधाई दी और कहा के ये हमारा नैतिक कर्तव्य है के हम सभी अपने प्राकृतिक संसाधनों के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण स्थापित कर उनको संरक्षित करे।उन्होंने कहा के पानी के बिना हम अपने दैनिक जीवन का नेतृत्व नहीं कर सकते इसलिए पानी को हमें बचना होगा।

अंत मे सभी गणमान्यजन ने विद्यार्थियों को यह संकल्प दिलवाया की हम जल का संरक्षण करेंगे और पानी के महत्व को समझते हुए जन-जन को समझाएंगे।

No Comments
Post a Comment
Name
E-mail
Website

JCDV Quiz